Short story of Holi festival in Hindi- जलज की होली

Holi FestivalHoli festival is a gala day celebrated in India with colors in the month of March.

We Indians are always excited about Holi Festival especially Kids.

So are you ready to celebrate Holi 2017 with water guns , balloons and gulal colors!

Be careful ! use only herbal colors which are good for your skin and for the environment. Also use water wisely, it is very precious.

Here is a short story of Holi festival in Hindi of a boy, who is excited to celebrate Holi this year in his village with his complete family.

Enjoy Reading!

Story

Festivals एकता और सम्पनता (unity and prosperity) का प्रतिक (symbol) होते है और इन मोको पर समाज को अच्छी सीख (good cause) दी जाए तो एक तीर से दो निशान लग सकते है। इसी सीख को दर्शा रही है ये story of Holi Festival

जलज की होली

-किसलय हर्ष भारद्वाज,देवघर, झारखण्ड.

जलज इस बार होली में अपने गांव “कैथा ” जा रहा था.

holi festival boy

वह यह सोचकर खुश था कि इस बार वह अपने दादा-दादी, चाचा-चाची, तथा अपनी बहन अदिति के साथ मिलकर गांव में होली मनाएगा.

उसे पता था कि होली में गांव में मौज-मस्ती के साथ ही साथ उसे अच्छे -अच्छे पकवान और मिठाइयां भी खाने को मिलेंगीं.

होली के दिन गांव में गुझिया, रसमलाई, नारियल बर्फी, दही बड़े और ढोकला खूब बनते थे.

जलज ने पिछली होली चेन्नई  में अपने मम्मी-पापा के साथ मिलकर मनाई थी.

इस बार पापा ने अपने सभी जरुरी कार्य को निपटाकर होली के लिये अपनी कंपनी से कुछ दिनों की छुट्टी ले ली थी, और होली से  कुछ दिनों पहले ही जलज अपने मम्मी -पापा के साथ अपने गांव कैथा पहुंच गया.

जलज गांव पहुंचकर, सब लोगों से मिलकर बहुत खुश हुआ.

बच्चों की सभा – Holi celebration ideas

शाम के समय अदिति ने गांव के मैदान में बच्चों की सभा बुलाई. सभी बच्चे शाम के समय गांव के मैदान में एकत्रित हुए और होली की तैयारी पर चर्चा करने लगे.

कार्तिक ने कहा कि गांव में तो बड़े बुजुर्गो ने गाने- बजाने के साथ ही होली का शुभारंभ कर दिया है, लेकिन हमारी तैयारी अभी कुछ भी नहीं हुई है.

तब देवेंद्र ने कहा कि, इस बार होली में हम बाजार से पक्के और गाढ़े रंग लाएंगे, ताकि ये रंग कुछ दिनों तक तो लोगों के चेहरे पर दिखाई पड़े.

जलज ने देवेंद्र की बात को काटा और कहा कि पक्के और गाढ़े रंग हमारी त्वचा के लिये नुकसानदायक होते हैं, इसलिए हमें प्राकृतिक रंगों से ही होली मनानी चाहिए और जबरन किसी पर भी रंग नहीं डालना चाहिए. कार्तिक ने जलज की बात का समर्थन किया.

तब अदिति ने कहा कि इस बार होली हम कुछ अलग तरह से मनायेंगे.

Holi कुछ अलग तरह की

उसने कहा कि, जैसे पिछली बार दीपावली के समय गांव के सभी लोगों ने अपने घर के साथ ही साथ पूरे गांव की साफ-सफाई कर दी थी, उसी तरह अब हम प्रत्येक त्यौहार के शुरुआत होने से पहले अपने घर और अपने गांव की साफ-सफाई कर देंगे, जिससे हमारा गांव खुबसूरत दिखाई दे.

पूर्वी और नव्या ने अदिति की बात का समर्थन किया और कहा कि हम साफ-सफाई के साथ ही साथ एक सांस्कृतिक कार्यक्रम (cultural evening)का भी आयोजन करेंगे, जिसमें गांव के सभी लोग भाग लेंगे.

कार्तिक और देवेंद्र ने कहा कि, तब तो बहुत आनंद आएगा. हम लोग नाचेंगे, गाएंगे, कविता-पाठ करेंगे और जम कर होली खेलेंगे.

जलज और अदिति को यह प्रस्ताव अच्छा लगा और सभी बच्चें बहुत खुश हुए.

दूसरे दिन सभी बच्चों ने मिलकर गांव की साफ-सफाई प्रारम्भ कर दी. बच्चों को साफ-सफाई करता देख कर बड़ों ने भी उनका खुलकर सहयोग किया.

शाम होने तक गांव की काया-पलट हो चुकी थी.

गांव दिखने में बहुत सुंदर लग रहा था.

अब होली आने में भी दो ही दिन शेष बचे थे, इसलिए दूसरे दिन बच्चों ने गांव के मैदान में ही सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया.

सभी ने इसमें भाग लिया और कुछ न कुछ किया. सभी गांव वालों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम का आनंद लिया और बच्चों की कार्यकुशलता और योग्यता की प्रशंसा की.

दूसरे दिन होली आ चुकी थी, जिसका सभी कई दिनों से इंतजार कर रहे थे. गांव के सभी लोग सुबह-सुबह उठ गए थे. सभी लोगों ने जम कर होली खेली.

playing holi

जलज ने भी जम कर होली खेली और मन भर कर पकवान और मिठाइयां खाई. वह बहुत खुश था.उसे इसी तरह की होली पसंद थी.

वह सोच रहा था कि, चेन्नई जाकर वह अपने मित्रों को कैथा गांव की होली के बारे में बतायगा और उन्हें भी आस-पास की साफ-सफाई के साथ ही साथ अच्छी होली खेलने के लिये प्रेरित करेगा.

ऐसी और भी रोमांचक कहानियाँ  www.nanheysamrat.com पड़े . Subscribe to our newsletter and comment below.

7 Replies to “Short story of Holi festival in Hindi- जलज की होली”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *